अम्बुजा अडानी सीमेंट में ठेका श्रमिकों के साथ भेदभाव करने को लेकर मजदूरों ने खोला मोर्चा

0

लोकेशन/सिमगा
रिपोर्टर/ओंकार प्रसाद साहू

अम्बुजा अडानी सीमेंट में ठेका श्रमिकों के साथ भेदभाव करने को लेकर मजदूरों ने खोला मोर्चा

सिमगा:- बलौदाबाजार जिले के अन्तर्गत संचालित सीमेंट उद्योग अंबुजा अडानी सीमेंट मे कर्मचारियों ने प्रबंधन के विरोध में खोला मोर्चा। ज्ञात हो की विगत 19 सितंबर से ठेका श्रमिक को अम्बुजा अडानी प्लांट रवान में मोबाईल लेकर कम्पनी में काम पर आना मना किया गया है। एक तरफ भारत देश में डिजिटल इण्डिया चला कर जनता और देश को डिजिटल छेत्र में आगे ला रहे है। और वही निजी कम्पनियो द्वारा अपने मजदूरों को अपने मोबाईल लेकर आने से रोका जा रहा है।

वही यहां के मजदूरों का कहना है। की कम्पनी हमारे लिये जब सुरक्षा के बारे में सोच रहा है। तो हमारे साथ काम करने वाले स्टाफ व अन्य कर्मचारियों जो हमारे साथ समान काम करता है। उसके लिये सुरक्षा नियम समान क्यों नहीं। यहां सुरक्षा के आड मे कर्मचारियों का मोबाईल बंद कराना मात्र एक दिखावा है। सुरक्षा के नाम पर। बल्कि असलियत यह है कि संयंत्र मे छोटी बडी दुर्घटना को बाहर न जाने दे। कोई किसी भी दुर्घटना का फोटो विडियो न बना ले। नही कोई मोबाईल के माध्यम से मिडिया तक कोई भी संयंत्र की गोपनीयता बाहर जाये। इस उद्देश्य से अंबुजा अडानी सीमेंट मे कर्मचारियों के जबरन मोबाइल पर रोक लगाई जा रही है। जो कि सरासर गलत व अधिकारों का हनन है।

गौरतलब हो कि पिछले कुछ महिनो से पुरे छत्तीसगढ़ में सीमेंट कम्पनी का हब कहे जाने वाले। जिला बलौदा बाजार, भाटापारा हमेशा सयंत्रो में हो रहे। दुर्घटना के बारे में लगातार सुर्खियों पर बना रहता है। जिसमे कई मजदूर हताहत व मृत्यु तक हो चुका है। लेकिन न ही संयंत्र प्रबंधन इस पर नियंत्रण कर पारही है। न ही सरकार व उद्योग मंत्रालय। इसी आक्रोश मे यहां के श्रमिको ने प्रबंधन के गलत नीतियों के विरोध में हल्ला बोल दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed