खैरागढ़-शिक्षको की कमी के बाद चुनाव पूर्व कोर्स पूरा कराने शिक्षा विभाग तैयारी में जूटा अब तक 50 फीसदी कोर्स पूरा, चुनाव समेत दशहरा दीवाली मे अटकेगी अध्ययन व्यवस्था

0

खैरागढ़ विधानसभा चुनाव में तैनात किए जाने से पहले स्कूलों में कोर्स की तैयारी कराए जाने विशेष अभियान चलाया जा रहा है । अगले माह होने वाले चुनाव, दशहरा और दीवाली अवकाश के चलते स्कूलो में इस साल शिक्षको की कमी के बाद भी कोर्स पूरा कराए जाने विभागीय कार्यवाही जारी है। शिक्षको को ड्यूटी चुनाव में लगती है ऐसे मे स्कूलों में इसका असर पढ़ाई पर पड़ना है। चुनाव के पहले विभाग आधे से ज्यादा कोर्स पूर्ण कराने की तैयारी में जुटा है। जिले के अधिकांश स्कूलो में अब अर्धवार्षिक परीक्षाओं की तैयारी शुरू कर दी गई है। विभाग का दावा है कि स्कूलो में आधे से ज्यादा कोर्स पूर्ण कर लिए गए है। चुनाव को देखते पहले ही इसकी तैयारी कर शिक्षको संस्था प्रमुखो को निर्देश जारी किए गए थे ।

दशहरा अवकाश के बाद दीवाली और चुनावी तैयारी

जिले के स्कूलो में शिक्षको की कमी को पूरा करने जिला प्रशासन पहले ही जूट गया था । कमी वाले स्कूलो मे कलेक्टर ने डीएमएफ मद से 107 शिक्षकों की तैनाती कर शिक्षण व्यवस्था मजबूत करने कार्यवाही शुरू कर दी है। हाई और हायर सेंकेडरी स्कूलो में भी शिक्षको की तैनाती के बाद आत्मानंद स्कूलो में शिक्षको की कमी दूर करने लगातार प्रतीक्षा सूची से शिक्षको की नियुक्ति लगातार की जा रही है। विधानसभा चुनाव में पढ़ाई मे बाधा को देखते शिक्षको को कोर्स निर्धारित समय से पहले पूरा कराए जाने के निर्देश दिए गए थे । अधिकांश स्कूलो मे 50 फीसदी कोर्स पूरा किए जाने का दावा किया गया है। चुनाव ड्यूटी के पूर्व 70 फीसदी कोर्स पूरा कराने में विभाग जूटा हुआ है। पखवाड़े भर बाद ही दशहरा का अवकाश होना है। इसके बाद चुनावी आचार संहिता के चलते शिक्षको की ड्यूटी और चुनाव प्रशिक्षण कार्य प्रारंभ होगा। दीवाली सहित चुनाव के दौरान अधिकांश स्कूलो मे पढ़ाई पूरी तरह ठप्प होगी । जिले के 80 फीसदी स्कूल मतदान केन्द्र बनाए जाते है। ऐसे मे विभाग इसकी पूर्ववत तैयारियों में जूटा है ।

70 फीसदी कोर्स पूरा कराएगें

जिला शिक्षा अधिकारी डा केवी राव ने बताया कि चुनाव सहित अन्य व्यवस्था को लेकर स्कूलो में अध्ययन अध्यापन के कार्य को 70 फीसदी पूरा करने लक्ष्य रखा गया है। अब तक की स्थिति में 50 फीसदी कोर्स पूरा कर लिया गया है । शिक्षको की कमी वाले स्कूलों मे शिक्षको की व्यवस्था बनाने के बाद कोर्स की तैयारी के निर्देश पहले ही दे दिए गए थे। चुनाव सहित अवकाश की बाधा कोर्स में न पड़े इसका विशेष ध्यान रखा गया है । जरूरत पड़ेगी तो अतिरिक्त कक्षाओं का संचालन कर कोर्स तय समय पर पूरा कराया जाएगा । ताकि छात्रो को परीक्षा से पूर्व पूरी तरह तैयार किया जा सके ।

सीएनआई न्यूज़ खैरागढ़ से सोमेश कुमार की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed