चौकी चिखली थाना कोतवाली जिला राजनांदगांव

पुलिस चौकी चिखली एवं सायबर सेल राजनांदगांव द्वारा नकबजनी के मामले का किया खुलासा
शहर के चिखली क्षेंत्रान्तर्गत सूने मकान में घर का दरवाजा तोड़कर चोरी की वारदात करने वाले अंतर्राज्यीय चोरो को चौकी चिखली पुलिस ने किया गिरफ्तार

मामले का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि प्रार्थी ने चौकी चिखली राजनांदगांव में रिपोर्ट दर्ज कराया कि अपने घर दीनदयाल नगर चिखली राजनांदगांव से दिनांक 12.08.23 को अपनी पत्नी के साथ अपने रिस्तेदार के घर घुमने के लिए दुर्ग गये थे जब दिनांक 15.08.23 को रात्रि 09 बजे घर वापस आकर देखा तो दरवाजा का ताला टुटा हुआ था घर अंदर रखे लोहे का आलमारी के अंदर रखे सोने का आभूषण एवं नगदी रकम 15000 रूपये कुल जुमला 157151 रूपये को को कोई अज्ञात चोर द्वारा चोरी कर ले गये है कि प्रार्थी के रिपोर्ट पर अप0क्र0 626/2023 धारा 457,380 भादवि एवं घटना दिनांक को ही चिखली सांई मंदिर के पास चोरी होने के संबंध में अन्य प्रार्थी के रिपोर्ट पर अप0क0्र 627/2023 धारा 457,380 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया, मामले की गंभीरता को देखते हुए श्रीमान् वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीना के निर्देशन एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री लखन पटले, नगर पुलिस अधीक्षक राजनांदगांव श्री अमित पटेल के मार्गदर्शन में चौकी प्रभारी चिखली व सायबर सेल प्रभारी के नेतृत्व में पुलिस चौकी चिखली एवं सायबर सेल राजनांदगांव की टीम गठित कर घटना के संबंध में सायबर सेल के सहयोग से चोरी के घटनास्थल के आसपास के सीसीटीवी के फुटेज को खंगाला गया दो टीम बनाकर दुर्ग और नागपुर की ओर टीमे भेजी गयी जिन्होने से राष्ट्रीय राजमार्ग के टोल नाके एवं गोंदिया खैरागढ नागपुर दुर्ग के सीसीटीवी के फुटेज को खंगाले गये जिस पर से मुखबीर सूचना पर फुटेज में दिखे लोगों को श्ेखर गायकवाड एवं संदीप टेमरे जैसा दिखना मालूम चला जिस पर से दो टीमे सिवनी रवाना की गयी संदेहियों की घेराबंदी कर राजेश मर्सकोले को अभिरक्षा में लिया गया, जिसकी निशानदेही पर अन्य संदेही संदीप टेमरे को सिवनी से एवं शेखर गायकवाड को नागपुर से अभिरक्षा में लिया गया।

आरोपी पता तलाश हेतु सिवनी म0प्र0 एवं नागपुर महाराष्ट्र रवाना होकर संदेहियों को घेराबंदी कर हिरासत में लेकर पुछताछ करने पर संदेहियो द्वारा घटना दिनांक के एक दिन पूर्व स्विफट डिजायर कार क्रमांक एमएच-40-एसी-7277 से घटनास्थल का रेकी करना एवं घटना दिनांक को पूनः रेकी कर घर पर ताला लगा होने से चोरी करने घर का ताला तोडकर अंदर प्रवेश कर चोरी करना एवं चोरी करने के बाद स्विफट डिजायर कार क्रमांक एमएच-40-एसी-7277 से भाग जाना एवं चोरी किये गये माल मशरूका को आपस में बराबर बांटना एवं बांटे हुए जेवरात में से कुछ को सर्राफा व्यापरियों के पास बेचना बताये, चोरी की संपत्ति खरीदने वाले सर्राफा व्यापारी देविन्द्र कुमार पिता जयनारायण कश्यप उम्र 57 साल निवासी लालगंज मेहंदी बाग रोड हनुमान मंदिर के पास लालगंज नागपुर महाराष्ट्र से एवं सर्राफा व्यापारी जगदीश खरवडे पिता भगवान खरवडे उम्र 57 साल निवासी मनसर थाना रामटेक नागपुर महा0 से खरीदे गये चोरी के जेवरात को जप्त कर सर्राफा व्यापरियों के विरूद्ध धारा 411 भादवि के तहत विधिवत कार्यवाही की जा रही है। आरोपीगण से चोरी किये गये सोने चांदी के जेवरात में 02 नग सोने का चैन, 02 नग सोने का पेण्डर, 1 नग मंगलसूत्र, 1 नग सोने का अगूठी, सोने का दो नग टाप्स, 4 नग सोने का गेहू दाना , 2 नग चांदी का पायल, 1 नग चादी का चाबी गुच्छा , 8 नग चादी का बिछिया, 05 नग मोबाईल फोन एवं घटना में प्रयुक्त कार स्विफट डिजायर क्रमांक एमएच-40-एसी-7277 को बरामद कर जप्त किया गया है। इस गिरोह का मुख्य सरगना संदीप टेमरे है जिसने वर्धा, नागपुर, यवतमाल, अकोला, परभणी, अमरावती जिलो में चोरी करने के प्रयास एवं चोरी करना कबूल किया गया है, जिस पर से संबंधित थानो से संपर्क करके अग्रीम कार्यवाही हेतु सूचना भेजी जाती है, पुछताछ में आरोपीगण बताया कि रक्षाबंधन के पूर्व इनका चोरी करने हेतु राजनांदगांव आने की योजना था, आरोपी संदीप टेमरे एवं शेखर गायकवाड इससे पूर्व में वठोडा थाना में पंजीबद्ध मामलो में नागपुर जेल में निरूद्ध थे, संदीप टेमरे तीन मामलों में जेल जा चुका था एवं शेखर गायकवाड वठौडा थाना के गबन के मामले में नागपुर जेल में निरूद्ध था, जहॉ संदीप टेमरे एवं शेखर गायकवाड मध्य जान पहचान हुआ था, आरोपीगण के विरूद्ध अपराध धारा सदर का घटित करना पाये जाने से आरोपीगण को विधिवत गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय में पेश किया गया। उक्त कार्यवाही में पुलिस चौकी चिखली एवं सायबर सेल की टीम का महत्वपूर्ण भूमिका एवं सराहनीय योगदान रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed